Ancient History By-Diwakar Special Classes

0

 

Downlode Link –

Ancient History By-Diwakar Special Classes

Advertisements

Exam की तैयारी करने की 10 Best Tips

0

आज बहुत से स्टूडेंट किसी न किसी परीक्षा के लिए तैयारी कर रहे हैं चाहे वह 12 या 10 वीं के बोर्ड एग्जाम हो या किसी कंपटीशन टेस्ट के लिए तैयारी कर रहे हैं सभी को एक ही परेशानी का सामना करना पड़ रहा है कि वह अच्छे से पढ़ाई नहीं कर पा रहे और इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं  जैसे पढाई का माहौल नहीं बनना और अपने समय का पूरा इस्तेमाल नहीं कर पाना आदि तो यदि आप थोड़ी सी कोशिश करके अच्छी कोशिश करें तो आप अच्छे से तैयारी कर सकते हैं परीक्षा की हम आज आपको कुछ बेहतरीन टिप्स बताएंगे  यदि आप उनको फॉलो करेंगे तो आप अच्छे से परीक्षा ही जारी कर पाएंगे

एग्जाम की तैयारी कैसे करे  Exam की तैयारी करने की 10 Best Tips – Exam की तैयारी करना कोई मुश्किल काम नहीं अगर उसे सही तरीके से की जाये यंहा पर मैं आपको ऐसी 10 बहुत ही अच्छे टिप्स बताऊंगा जिससे आप एग्जाम की तैयारी बहुत ही अच्छे तरीके से कर सकते है और अपने एग्जाम को अच्छे नम्बरो से पास कर सकते हो।

शुरू से ध्यान से पढ़े

कुछ स्टूडेंट ऐसे होते हैं कि सिलेबस शुरू होते ही  तो ध्यान नहीं देते वह सोचते हैं कि आखिर में जाकर एग्जाम के लिए तैयारी कर लेंगे लेकिन ऐसा करने से परीक्षा की अच्छे से तैयारी नहीं कर सकते क्योंकि यदि आप शुरु से ही अलर्ट नहीं हुई नहीं होंगे तो एग्जाम के समय आपके दिमाग पर एकदम से अधिक बोझ होगा क्योंकि आपके पास समय की कमी होगी और आप थोड़े से समय में अधिक से अधिक पढ़ाई करने की कोशिश करेंगे

जिससे आप ना तो अच्छे से रिवीजन कर पाएंगे और ना ही पूरा सिलेबस कवर कर पाएंगे तो अच्छा यही है कि आप शुरू से ही अलर्ट होकर और टाइम टेबल बनाकर पढ़ाई शुरू करें जिससे आपके परीक्षा के समय आपके दिमाग पर अधिक बोझ है वह और आप अच्छे से परीक्षा की तैयारी कर सके|

अच्छे से लिखना सीखे

 

कभी-कभी हम परीक्षा की अच्छे से तैयारी करके जाते हैं और हमें प्रश्नों के सभी उत्तर आते हैं लेकिन हम उन उत्तर को अच्छे से नहीं लिख पाते या तो इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं या तो हमने अच्छे से उस पर्सन को पढ़ा नहीं या हमारी हैण्ड राइटिंग साफ नहीं है तो आप ध्यान रखें कि आप अपनी हैंडराइटिंग को साफ करने की कोशिश करें और सभी प्रश्न को अच्छी तरह पढ़कर ही उनका उत्तर लिखना शुरू करें और सभी प्रश्नों के साथ उनका डायग्राम जरूर बनाएं जिससे पेपर चैक करने वाले को आपके उत्तर के बारे में सब कुछ समझ आ जाए कि आपने क्या लिख रखे हैं और आप क्या समझाना चाहते हैं

यदि आप सभी प्रश्नों के साथ उनके डायग्राम और साफ राइटिंग में प्रश्नों के उत्तर देंगे तो पेपर चेक करने वाला आपके कम से कम नंबर काटने की कोशिश करेगा और आप आसानी से परीक्षा पास सकते हैं |

सिलेबस के हिसाब से तैयारी करें

जब स्कूल में या किसी सेंटर पर सिलेबस शुरू किया जाता है तो उसी हिसाब से धीरे-धीरे सिलेबस को कवर करें और और ज्यादा कुछ ना करें बस जो स्कूल में सिलेबस कराया जाता है उसको ही घर आकर देख ले ताकि जो स्कूल में कराया जाता है वह आपके दिमाग में उसी टाइम बैठ जाए और बाद में एक बार देखने पर आपको अच्छी तरह याद हो जाए

तो यदि आप सिलेबस के हिसाब से धीरे-धीरे तैयारी करेंगे तो परीक्षा के समय तक आपकी अच्छी तरह तैयारी हो जाएगी और आप का सिलेबस भी पूरा कवर हो जाएगा |

टाइम टेबल बनाकर ही पढ़ाई करें

 

जब आपकी क्लास से शुरू हो उसी टाइम से आप अपना एक टाइम टेबल बना लें और हर काम के हिसाब से टाइम को फिक्स कर दें ताकि यदि आप पढ़ाई करें तो बीच में कोई काम न हो और आप अपनी बुक्स के हिसाब से भी टाइम टेबल बनाएं यानी कि हर बुक को  कितनी देर तक पढ़ना है ज्यादा हार्ड बुक को ज्यादा समय दें और थोड़ी सी आसान सिलेबस को कम समय दें जिससे आपकी अच्छी तरह तैयारी हो जाए

और यदि आप टाइम टेबल बनाकर पढ़ाई ना करेंगे तो आप पढ़ाई करते समय ना तो कंसंट्रेशन बना पाएंगे क्योंकि बीच के अंदर कोई ना कोई काम होगा जिससे आप अच्छे से कुछ नहीं कर पाएंगे तो आप एक अच्छा टाइम टेबल बनाकर पढ़ाई शुरू करें जिससे हर काम के लिए समय फिक्स होगा और पढ़ाई के बीच में कोई दखलंदाजी नहीं होगी जिससे आप अच्छी तरह पढ़ाई कर पाएंगे |

नींद का पूरा ध्यान रखें

आपको परीक्षा की तैयारी करते समय नींद का पूरा ध्यान रखना चाहिए क्योंकि यह समस्या तो सभी स्टूडेंट के साथ होती है कि किताब उठाई और नींद आने लगती है तो आप यदि नींद को पूरा नहीं करेंगे तो आप परीक्षा की तैयारी भी अच्छे से नहीं कर पाएंगे तो आप जो भी आप के समय आपके पास खाली समय है.

 

उस समय अपनी नींद को पूरा करने की कोशिश करें ताकि यदि आप पढ़ाई करें तो आपको नींद कम से कम आए और आप परीक्षा के अच्छे से अच्छी तैयारी कर सके कई स्टूडेंट परीक्षा से पहले नींद नहीं लेते और बहुत ज्यादा तैयारी में लगे रहते हैं जिसके कारण ना तो उन की अच्छे से तैयारी हो पाती क्योंकि यदि नींद सही नहीं लेंगे तो आपका दिमाग सही से काम नहीं करेगा और आपको कुछ याद भी नहीं होगा तो आप परीक्षा के समय अच्छी तरह से नींद पूरी करें और जिससे आपका दिमाग अच्छी तरह कॉन्संट्रेशन बना सके और आपकी तैयारी भी अच्छी प्रकार से हो सके

पढाई अधूरा न छोड़े

हमें सबसे पहले हमारे एग्जाम की एक सूचि बनानी चाहिए , और फिर ये देखना चाहिए की हमें कौन सा विषय (Subject) ज्यादा पढ़ना है कौन सा कम तो उसी हिसाब से अपने समय को बनाये और जिस विषय (Subject) में आप कमजोर है उसे दूसरे विषय (Subject) के मुकाबले ज्यादा से ज्यादा समय दे.

अपने पढ़ने के लिए अलग से जगह बनाये

हमें आराम से पढने के लिए अपनी अलग जगह बनानी चाहिए जंहा आप अपनी जरूरत की चीज अच्छे से साम्भल कर रख सके और पढाई करते समय आपको बार बार ना उठाना पड़े और आपका पूरा ध्यान पढाई में लगा रहे.

Flowchart का उपयोग करे

कोई भी बड़ी और मुश्किल से याद होनी वाली चीजों को आप अलग अलग हिस्सों में करके याद करने की कोशिस करे ,किसी भी बड़ी चीज को याद करने का आसान तरीका यही है की उसे अपने हिसाब से छोटा करके याद रखे की जब आप एग्जाम में उसे लिखना शुरू करो तो उन छोटे छोटे हिस्सों से वो पूरा याद आजाये.

अच्छा खाना खाएं

Exam के दिनों में हमारे दिमाग को जयादा काम करना पड़ता है तो अपने दिमाग का भी ख्याल रखना आपकी जिमेदारी है , तो अगर आप चाहते है की आपका दिमाग अच्छे से काम करता रहते तो अच्छा खाना खाए जिससे आपने दिमाग को पूरी ऊर्जा मिले तो आपका दिमाग अच्छे से काम करता रहे,

बादाम दही और ब्लूबेरी जैसे खाद्य पदार्थो का सेवन करें

और अपने एग्जाम में जाने  से पहले भी अच्छा खाना खा जाये जिस से एग्जाम करते समय भी आपके दिमाग को ऊर्जा मिलते रहे

पुराने एग्जाम पेपर से अभ्यास करे

Exam की तैयारी करने की 5 Best Tips

ये है सबसे अच्छा तरीका थोड़े समय में एग्जाम में पास होने के लिए, आपको जितने  भी पुराने एग्जाम पेपर मिले ज्यादा से ज्यादा पेपर को हल करके देखिये ,ज्यादा से ज्यादा अभ्यास करे आपको पता लग जायेगा की किस तरह का पेपर आ सकता है

Note

ये tips अपना कर आप अपने एग्जाम की तैयारी बहुत अच्छे से कर सकते है .इन सभी काम के बीच एक बात का ध्यान दे आपके आप को बीच बीच में आराम देते रहे

आप किसी भी एग्जाम की तैयारी करे जो ऊपर टिप्स दी गई उन्हें अपनाना जरूरी है उसके अलावा आप अगर किसी खास एग्जाम की तैयारी  कर रहे है तो आप नीचे दी गई टिप्स अपनाइए

  1. सबसे पहले आप अख़बार पढ़े अखबार से आपकी करंट अफेयर्स की जानकारी मिलती रहेगी
  2. इंटरनेट पर सर्च करें हमसे जुड़े रहे आपको नई नई जानकारी हर रोज मिलती रहेगी
  3. नई नई जानकारी को ऐसी जगह लिख ले जंहा आपको हर रोज आपको दिखती रहे
  4. और सबसे अच्छा और असरदार तरीका है पुराने एग्जाम पेपर को पढ़े ज्यादा से ज्यादा

Biology Short Tricks

0

1. जिवाणु से होने वाले प्रमुख रोग

Short Trick ‘ पंडित – का –  टिक –  न्यु –  है

पं :   प्लेग

डि :  डिपथिरिया

त : टायफाइड

का : काला खाँसी

टि : टिटनस

क : कुष्ट

न्यु : न्युमोनिया

है : हैजा

2. विटामिन ABCDEK की कमी से  होने वाले रोग

Short Trick -{रवे सारे वर}

1. Vitamin A :  र :  रतोंधी

2. Vitamin B – वे – वेरी वेरी

3. Vitamin  C – सा – स्कर्वी

4. Vitamin  D – रे – रिकेट्स

5. Vitamin  E – व – वाझपन

6. Vitamin  K – र – रक्त का थक्का  न बनना

3. विटामिन ABCDEK के रासायनिक नाम

Short Trick– रथ एक टाफी

Vitamins  विटामिन A – र –रेटिनालविटामिन

Vitamins  विटामिन B – थ –थायमीन विटामिन

Vitamins  विटामिन C– ए –एस्कार्बिक अम्ल विटामिन

Vitamins  विटामिन D – क –कैल्सीफ़ेरोल विटामिन

Vitamins  विटामिन E – टा –टोकोफ़ेराल विटामिन

Vitamins  विटामिन K – फी –फ़िलिक्वोनोन

4. कुछ अानुवांशिक रोग

Short Trick of diseases : “वही क्लीप वही डॉट”

1. व—–वर्णांधता
2. ही—–हीमोफीलिआ
3. क्ली—क्लीनेफ़ेल्टर
4. प—–पटाउ सिंड्रोम
5. वही—(साइलेंट)
6. डा—–डाउन्स सिंड्रो म
7. ट——टर्नर सिंड्रोम.

5. विषाणुओं से होने वाले रोग

(Short Trick : रेखा हमें हिट करके पोएचे(पीछे) छोड़ गई)

  1. रे- रेबीज
  2. खा- खसरा
  3. ह- हर्पीस
  4. में- मेनिनजाईटिस
  5. हि- हिपेटाइटीस
  6. ट- ट्रेकोमा(पोथकी/रोहे) “करके-silent”
  7. पो- पोलियो
  8. ए- एड्स
  9. चे- चेचक (बड़ी माता)
  10. छो- छोटी माता
  11. ड- डेंगू बुखार (पित्त ज्वर)
  12. ग – गलसोध (mumps)
  13. ई- इन्फ्लुन्ज़ा (स्वाइन फ्लू -N1H1)

6. जीवाणुओं से होने वाले रोग

(Short Trick : टिंकू सिडी में बनी है पटाका)

  1. टिं- टिटेनस (धनुस्तम्भ), टि.बी. (क्षय/तपेदिक)
  2. कू- कुष्ट रोग (कोढ़)
  3. सि- सिफिलिस (फिरंग रोग)
  4. डी- डिप्थीरिया
  5. में- मेनिन जाइटीस
  6. ब- बोट्युलिस्म (भोजन विषाक्तता)
  7. नी- निमोनिया
  8. है- हैजा
  9. प- प्लेग
  10. टा- टायफाइड (मोतीझरा/मियादी बुखार)
  11. का- काली खांसी (कुक्कर खांसी)